Wednesday, August 23, 2017
Home > NATION > भांग की कुछ रहस्यमय बातें जिसे पढ़ना चाहिए आपको इस होली के पावन अवसर पर

भांग की कुछ रहस्यमय बातें जिसे पढ़ना चाहिए आपको इस होली के पावन अवसर पर

Bhang भांग

भांग एक ऐसी चीज़ है जिसके बगैर होली और महाशिवरात्रि जैसे त्यौहार मानाने के बारे में लोग सोच भी नहीं सकते । इन त्योहारों में भांग की कुछ अलग ही विशेषता है । आइए जानते हैं भांग से जुडी कुछ बातें

 

वेदों और पुराणों में भांग का ज़िक्र हम अक्सर पाते हैं । बताया जाता है कि भांग और शोमरस दोनों एक ही हैं ।

 

भांग भगवान भोलेनाथ का एक प्रिय पेय पदार्थ है । वैसे तो पुराणों में भगवान भोलेनाथ जी और भांग से जुड़ी कई कहानियाँ हैं जैसे
एक कहानी यह है कि भगवान भोलेनाथ हमेशा ध्यान लगाए रहते हैं और भांग भगवान भोलेनाथ जी का ध्यान एकत्र करने में मदद करता है । इसलिए ज्यादातर समय भांग पीकर अपना ध्यान एकत्र करते हैं और मग्न रहते हैं ।

 

एक और कहानी ऐसी है कि जब देवताओं और अशुरों के बीच समुद्र मंथन हुआ था तब भगवान भोलेनाथ ने उससे निकले जहरीले विष को पिया नहीं बल्कि उस विष को अपनी कंठ में रखा जिसके कारण उन्हें अपने कंठ में बहुत गर्मी लगने लगी और वह इसी कारण हिमालय के पर्वत पर जा बैठे और भांग जो की ठंडाई का काम करती है उसे पीने लगे । इसी कारण भांग उनका एक प्रिय पेय पदार्थ बन गया ।

 

वैसे एक कहानी और है जिसके अनुसार जब समुद्र मंथन हुआ तब उसमें से एक बूंद मद्र पर्वत पर गिर गयी । और इसी बूंद से एक पौधा पैदा हुआ । इस पौधे का रस देवताओं को बहुत पसंद आया | इसी कारण भगवान भोलेनाथ ने इस पौधे को हिमालय ले गए और अपने साथ रखा जिसके कारण सभी इस रस का सेवन कर सके ।

 

यह तो रही पुराणों की बात वैसे आयुर्वेद में भी भांग को मनुष्य के लिए औषधि माना गया है । भांग त्वचा और जख्मों के लिए लाभदायक है । बताया जाता है कि भांग यदि सही मात्रा में ले तो मनुष्य के शरीर के लिए बहुत लाभदायक है ।

 

वैसे जिस तरह हर चीज़ का फायदा और नुकसान होता है उसी तरह भांग के भी हैं । यदि भांग ज्यादा मात्रा में लिया जाए तो यह शरीर को बहुत नुकसान पहुंचाती है । ज़्यादा मात्रा में पीने से भांग का नशा जल्दी उतरता नहीं और इंसान अपने होश और आवास में नहीं रहता । जब तक भांग का नशा चढ़ा रहेगा तब तक भांग पिया हुआ मनुष्य अजीबोगरीब हरकतें करता रहेगा । ज्यादा मात्रा में भांग पिने से इंसान कुछ दिनों के लिए अपना मानसिक संतुलन भी खो सकता है ।

 

वैसे तो भांग ज़्यादातर लोग इन त्योहारों में ठंडाई के रूप में पीते हैं और त्यौहार का आनंद लेते हैं । अजंता न्यूज़ की भी अपने रीडर्स से यही अपील है कि होली और महाशिवरात्रि के दिन खूब खेलें, खूब आनंद लें और दूसरों के साथ मिलकर इन त्योहारों का मज़ा लें । आप सभी को होली की शुभकामनाएं ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *